रविवार, 4 सितंबर 2011

शिक्षक दिवस


शिक्षक दिवस के अवसर पर आदर्श शिक्षक एवं राष्ट्रपति
डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को शत-शत नमन करती हूँ|
 विद्यालय से लेकर विश्वविद्यालय तक के शिक्षकों
का हार्दिक नमन करती हूँ|





आदर्श शिक्षक
आदर्श शिक्षक ही बनते राष्ट्र का आधार
राष्ट्र के लिए वे बनाते भावी कर्णधार||

सच्चे गुरू की सोच कभी नहीं होती संकीर्ण
सदा करते रहते वे ज्ञान प्रकाश विकीर्ण||

प्यार से जीता जाता जहाँ शिष्य का मन
वहाँ बहार छा जाता विद्यालय बनता चमन||

आदर्श अध्यापक होते विद्याव्यसनी निरहंकार
राजा भी नतमस्तक होते त्याग कर अहंकार||

झेल जाते महान शिक्षक प्रतिकूलता के चक्रवात
बुझने नहीं देते निष्ठा-दीप हो भयंकर झंझावात||

अच्छे शिक्षक की दृष्टि सदा होती समभाव
मेधावी-मंद में वे कभी नहीं करते भेदभाव||

आदर्श शिक्षक और राष्ट्रपति थे डॉ राधाकृष्णन
सम्मान हेतु ही जन्म दिवस बना शिक्षक दिवस||
                         ऋता शेखर मधु

2 टिप्‍पणियां:

  1. "गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्‍वरः । गुरु साक्षात्‌ परब्रह्म तस्मै श्रीगुरुवे नमः ॥"

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपको भी शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!