सोमवार, 31 दिसंबर 2012

२०१२ की पॉपुलर पोस्ट (दोहा छंद)

वर्ष 2012 का आज अन्तिम दिन...मौजूदा वारदात पर मन द्रवित है...फिर भी समय अपनी गति नहीं छोड़ता ...2013 को नियम के अनुसार आना है...आने वाले वर्ष में हालात सुधरें,  इसी आशा के साथ नए वर्ष की शुरुआत करनी है...सभी को नव वर्ष की मंगलकामनाएँ !!


 ब्लॉगर के अनुसार २०१२ की जो सबसे पॉपुलर पोस्ट रही वह फिर से प्रकाशित कर रही हूँ|


बूँद-बूँद तरसे धरा, ताक रही आकाश|
मेघ, अब आओ जरा, मिलने की है आस|१|

मतवाले बादल चले, घोड़े-सी है चाल|
हौले मस्त हवा चली, झूमें तरु के डाल|२|

घटा घनघोर छा रही, नाच रहा है मोर|
चपल दामिनी हँस पड़ी, बादल करता शोर|३|

घन-घन करके गरज रहा, इन्द्रदेव का दूत|
माँ के आँचल जा छुपा, उसका डरा सपूत|४|

प्रचण्ड-वेग समीर बहे, झुकते ताड़-खजूर|
धूल-भरी हैं आँधियाँ, उड़ें फूस-छत दूर|५|

बादलों से गगन ढका, है बारिश की थाप|
भोर निशा-सी लग रही, सूरज सोया चुपचाप|६|

खुशबू सोंधी उड़ रही, टप टप बरसा नीर

तन मन पुलकित हो गए, चलो ताल के तीर|७|


बारिश की धारा बही, छप-छप करते पाँव|
कतारों में हैं सजते, कागज के सब नाव|८|

मुसलाधार बारिश में, सजा राग मल्हार|
पकौड़ियाँ छनने लगीं, छाई हँसी-बहार|९|

नदी- ताल- पोखर भरे, बारिशों का कमाल|
टर-टर से गूँजा शहर, मेढकों का धमाल|१०|

बूदें नभ में जा टँगीं, हो रहा परावर्तन|
इन्द्रधनुष के सात रंग, करने लगे नर्तन|११|

मेंहदी हाथों में रची, मुखड़ा होता लाल|
मंद- मधुर मुस्कान से, सखियाँ करें सवाल|१२|

ऋता शेखर मधु

10 टिप्‍पणियां:

  1. नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ... आशा है नया वर्ष न्याय वर्ष नव युग के रूप में जाना जायेगा।

    ब्लॉग: गुलाबी कोंपलें - जाते रहना...

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर...नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें!.

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर रचना...
    आपको सहपरिवार नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत उम्दा.बेहतरीन श्रृजन,,,,
    नए साल 2013 की हार्दिक शुभकामनाएँ|
    ==========================
    recent post - किस्मत हिन्दुस्तान की,

    उत्तर देंहटाएं
  5. नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत खूब...
    नववर्ष की हार्दिक बधाई
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपको सपरिवार नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ .... :))

    उत्तर देंहटाएं
  8. मंगलमय नव वर्ष हो, फैले धवल उजास ।
    आस पूर्ण होवें सभी, बढ़े आत्म-विश्वास ।

    बढ़े आत्म-विश्वास, रास सन तेरह आये ।
    शुभ शुभ हो हर घड़ी, जिन्दगी नित मुस्काये ।

    रविकर की कामना, चतुर्दिक प्रेम हर्ष हो ।
    सुख-शान्ति सौहार्द, मंगलमय नव वर्ष हो ।।

    उत्तर देंहटाएं
  9. मुसलाधार बारिश में, सजा राग मल्हार...
    -----------------------------
    नववर्ष की मंगलकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत सुंदर ... नव वर्ष की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!