बुधवार, 10 जुलाई 2013

कुछ चतुष्पदी रचनाएँ...

ईश्वर के वरदान से मिले मनुज का रूप
बल विवेक अरु बुद्धि से सहते छाया- धूप
उर जब निश्छल हो सदा प्रभु आते हैं पास
कुछ तो इस संसार में कर जाएँ हम खा

हर मौन सिर्फ़ मौन नहीं होता
तूफ़ान के पहले की शांति तो नहीं
चीत्कार भरा हो अंतर्मन में जब
खामोशियों की यह भ्रांति तो नहीं.

दिखता जब नूर वह चेहरे का पानी है
झुकती हुई पलकों में लाज का पानी है
तीन चौथाइ धरा पर पानी का है राज
शुद्धता मिले नहीं वह आज का पानी है

जो बीत गई वो बात गई
क्या सच में ऐसा  होता है
गुजरे लम्हों की चादर पर
इतिहास पसरकर सोता है|

विगत की भूलों से सीखकर
जो स्वप्न के मोती बोता है
वह इंसां अपने जीवन में
खुद पर ही कभी न रोता है|

छमछम नाच रही हैं बूँदें
पावस छेड़े मधुर तराना
मिलन-विरह की यही कहानी
लगे सुहाना या वीराना |

..........ऋता

13 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 11/07/2013 के चर्चा मंच पर है
    कृपया पधारें

    उत्तर देंहटाएं

  2. छमछम नाच रही हैं बूँदें
    पावस छेड़े मधुर तराना
    मिलन-विरह की यही कहानी
    लगे सुहाना या वीराना |

    वाह !!! बहुत उम्दा लाजबाब प्रस्तुति,,,

    उत्तर देंहटाएं
  3. जी बहुत सुंदर रचना, क्या बात


    कांग्रेस के एक मुख्यमंत्री असली चेहरा : पढिए रोजनामचा
    http://dailyreportsonline.blogspot.in/2013/07/like.html#comment-form

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह . बहुत उम्दा,सुन्दर व् सार्थक प्रस्तुति
    कभी यहाँ भी पधारें

    उत्तर देंहटाएं
  5. दिखता जब नूर वह चेहरे का पानी है
    झुकती हुई पलकों में लाज का पानी है
    तीन चौथाइ धरा पर पानी का है राज
    शुद्धता मिले नहीं वह आज का पानी है ..

    वाह ... गज़ब का भाव ... पानी के हर रंग को एक ही छंद में उतार दिया ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुन्दर व् सार्थक प्रस्तुति....

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपने फेसबुक पर भी डाला था न इसे...याद आ रहा है! :)

    उत्तर देंहटाएं
  8. जो बीत गई वो बात गई
    क्या सच में ऐसा होता है
    गुजरे लम्हों की चादर पर
    इतिहास पसरकर सोता है|

    सभी बहुत सुन्दर ...ये सबसे अच्छी लगी।

    उत्तर देंहटाएं
  9. छमछम नाच रही हैं बूँदें
    पावस छेड़े मधुर तराना
    मिलन-विरह की यही कहानी
    लगे सुहाना या वीराना |

    बहुत खूब

    नई पोस्ट
    तेरी ज़रूरत है !!

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत अच्छा। आप एक प्रेरणा हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत अच्छा। आप एक प्रेरणा हैं।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!