मंगलवार, 20 अगस्त 2013

मोती मोती नेह भरा है...


न स्वार्थ का है लेप
न इच्छाओं का अवलंबन
है चट्टान सा मजबूत
भाई-बहन का बंधन

मोती मोती नेह भरा है 
डोरी डोरी मंत्र
बहन की रेशम राखी में
पिरोया आशीष अनंत

सर्वरोगोपशमनं सर्वाशुभविनाशनम्|
सकृतकृतेनाब्दमेकं येन रक्षाकृतो भवेत्||

रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ!!!!!!!!
................ऋता

12 टिप्‍पणियां:

  1. आपको भी रक्षा बंधन की बहुत बहुत शुभकामनाएं
    latest post नए मेहमान

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

      हटाएं
    2. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

      हटाएं
  2. बहुत सुंदर रचना,
    इस पर्व में वाकई बहुत खुशबू
    और बहुत सारा प्यार है।
    ढेर सारी शुभकामनाएं..

    उत्तर देंहटाएं
  3. है चट्टान सा मजबूत
    भाई-बहन का बंधन...

    ढेरों शुभकामनाएं...
    सस्नेह
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुन्दर रचना....
    रक्षा बंधन के पावन पर्व पर आपको शुभकामनाएँ..
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  5. सच में स्नेह से भरा अटूट बंधन है रक्षाबंधन
    रक्षाबंधन की बधाई व शुभकामनाएँ !
    सुन्दर रचना
    सादर!

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर ,
    रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ!!!!!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. सुंदर रचना , राखी की ढेरो शुभकामनाये

    यहाँ भी पधारे

    असफल प्रयास
    http://shoryamalik.blogspot.in/2013/08/blog-post_6131.html

    उत्तर देंहटाएं
  8. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!