शुक्रवार, 20 जनवरी 2012

एक कविता - भाई के लिए


भाई मेरे
हो तो तुम मुझसे छोटे
पर रिश्ते यूँ निभाते
जैसे हो कितने बड़े|
जीवन पथ पर चलते-चलते
जब भी मैंने ठोकर खाया
सर उठाकर जो देखा
हाथ तुम्हारा आगे पाया|

जब भी तुमने ये देखा
मुख मलीन है मेरा
तुम भी फिर खुश न रहते
हर कोशिश खुश रखने की
लेकर आगे पग बढ़ाया
सर उठाकर जो देखा
हाथ तुम्हारा आगे पाया|

आँखों में अश्रु मेरे होते थे
विकल तुम नजर आते थे
सांत्वना की बड़ी टोकरी ले
सदा तुम्हें खड़े ही पाया
सर उठाकर जो देखा
हाथ तुम्हारा आगे पाया|

कोई समस्या नहीं है ऐसी
जिसका हल न तुमसे पाया
खुद से ज्यादा विश्वास तुमपर
सदा आधार उसे बनाया
सर उठाकर जो देखा
हाथ तुम्हारा आगे पाया|

चंदामामा से प्यारा मेरा मामा
बच्चों ने सदा गुनगुनाया
बाल-मन पढ़ने में माहिर
तुमने जादू की छड़ी घुमाया
जो काम मैं नहीं कर पाती
झट से तुमने कर दिखाया|

हमारे खरीदे टेड्डी बियर
बार्बी और हेलिकॉप्टर ने
कोने में से मुँह चिढ़ाया,
तुम्हारे गुलाटी वाले बन्दर
फट-फट चलने वाले स्टीमर
बुलबुले उड़ाते पाइप ने ही
बच्चों को था सदा लुभाया|

एक वरदान दिया हमें प्रभु ने
मुझको तुमसे बड़ा बनाया
जन्मदिन तुम्हारा आया है
एक वस्तु एसी तो है
जो मैं तुम्हे दे सकती हूँ|

मेरे अन्तर्हृदय से दुआओं की
निर्मल स्नेहमयी धारा बह रही है
पावन आशीर्वाद वेद-ऋचाओं-से
पवन में उन्मुक्त गूँज रहे हैं
जीवन के किसी भी पल में
जब भी मेरी जरूरत होगी
मेरे हाथ भी तुम सदा
अपने लिए आगे पाओगे|

जन्मदिन की ढेर सारी बधाई और शुभकामनाएँ!!!
तुम्हारी दीदी-- ऋता शेखर मधु

14 टिप्‍पणियां:

  1. भाई को जन्मदिन की शुभकामनायें ... सुन्दर तोहफा दिया है आपने .

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपके भाई को जन्मदिन की शुभकामनायें .

    उत्तर देंहटाएं
  3. जन्मदिन की ढेरों बधाईयाँ
    इतनी प्यारी कविता का हक़दार बनने की भी शुभकामनाएँ!!

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपकी कविता से प्रेम झलकता है । कविता एवं उसका भाव अच्छा लगा । मेरे नए पोस्ट " हो जाते हैं क्यूं आद्र नयन पर ":पर आपके प्रतिक्रियाओं की आतुरता से प्रतीक्षा रहेगी । धन्यवाद। .

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत अच्छी प्रस्तुति, भाव पूर्ण सुंदर रचना,बेहतरीन पोस्ट....
    new post...वाह रे मंहगाई...

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपके भाई को हमारी ओर से शुभकामनाएं | आपकी कविता भावभीनी है ओर निसंदेह आपके भाई के लिए खूबसूरत तोहफा भी है |

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर और प्यार भरी प्रस्तुति है आपकी.
    भाई को जन्म दिन की हार्दिक बधाई.

    भाई-बहिन का प्यार सदा बढे और अमर रहे यही दुआ और कामना करता हूँ.

    समय मिलने पार मेरे ब्लॉग पर आईयेगा ऋता जी.

    उत्तर देंहटाएं
  8. bahut pyari dil se nikli hui rachna... aapke bhai ko meri bhi dher sari shubhkamnayen...:)

    उत्तर देंहटाएं
  9. भाई के जन्मदिन पर मेरे तरफ से भी
    ढेर सारी शुभकामनाएं !
    बहुत खुबसूरत तोहफा सुन्दर रचना के रूप में आपने अपने भाई को दी है !
    आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  10. bhai se aapke riste ko puri tarah se paibhashit karta hai ye kavya......
    really amazing.

    उत्तर देंहटाएं
  11. भाई के लिए प्यार से सराबोर रचना का कोई जवाब नहीं ॠता जी !

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!