मंगलवार, 4 सितंबर 2012

मेरे शिक्षक




भूल

बात उस समय की है जब मैं आठवीं कक्षा में पढ़ती थी|
हम तीन छात्राओं के बीच एक-एक अंक को लेकर मारधाड़
मची रहती थी क्योंकि हम तीनों ही प्रथम स्थान पाने के लिए
प्रयत्नशील रहते थे|

फ़ाइनल परीक्षा शुरु हो चुकी थी|उस दिन अंग्रेजी की परीक्षा थी|
मेरे कमरे में मेरे जीवविज्ञान के शिक्षक गार्डिंग कर रहे थे|मेरा
पेपर लगभग पूरा हो चुका था|प्रश्नपत्र में एक शब्द था ऐट औल,
जिस पर वाक्य बनाना था|मुझे उसका अर्थ नहीं पता था|सिर्फ़
पाँच मिनट समय बच गया था|मैं दो अंक का वह वाक्य गँवाने
के लिए तैयार नहीं थी|मैं ने सर से उसका अर्थ पूछा|वे यह बोलते
हुए निकल गए- आई डोन्ट नो इंगलिश ऐट औल|
मैं ने हड़बड़ाहट में ऐट औलशब्द पर ध्यान नहीं दिया|मुझे लगा
कि उन्होंने साफ़ ही मना कर दिया कि उन्हें अंग्रेजी नहीं आती|

जब मैं घर आई तो मेरे पापा ने मुझसे परीक्षा के बारे में पूछा|
मैंने सारी बात बताई|पापा ने वह वाक्य पूछा जो सर ने कहे थे|
उसे सुन वे हँसने लगे और बताया कि सर ने तो मेरी मदद की थी|
मैं ही नहीं समझ पाई थी|मैं अपनी बेवकूफ़ी पर मुस्कुरा उठी|
दो अंक गँवाने की कसक लिए मैं सो गई|

यह बात मुझे किसी की बात को धैर्यपूर्वक सुनने और समझने
की शिक्षा दे गई| मैं आज भी सर को हर शिक्षक दिवस के दिन
आदरपूर्वक याद करती हूँ|
                                    ऋता शेखर मधु

10 टिप्‍पणियां:

  1. :-)
    एक्ज़ाम की बदहवासी...सच्ची आज भी मुझे पसीने आते हैं.जाने कैसे परीक्षाएं दीं...
    शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं..
    सस्नेह
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  2. samajh sakti hun un 2 anko ko gawane aur sir ki baat dhyan se na sunNe ka kitna dukh hua hoga.

    shikshak ki har baat me shiksha hoti hai....jo aap ko baad me samajh aayi.

    sunder/prabhavi sansmaran.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुंदर पोस्ट..
    शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं..
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  4. :):) होनहार विद्यार्थियों की मदद शिक्षक कर ही देते हैं लेकिन बच्चे समझ पाते हैं या नहीं ये उनकी क्षमता पर होता है ... आप घबराहट में ही भूल कर गईं ... रोचक पोस्ट ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर . ऋता !.शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं..

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह आपके शिक्षक की सूझ आपको अबूझ छोड गई । सुंदर संस्मरण ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं..
    di kya na karwata tha ye padhai..

    उत्तर देंहटाएं
  8. रोचक पोस्ट...इक्जाम हॉल की यादें ताज़ा हुई |

    उत्तर देंहटाएं
  9. आपके teacher भी कमाल के थे english me ही बता रहे थे कि उनको english नहीं आती हा हा हा :P

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है...कृपया इससे वंचित न करें...आभार !!!